GSTN पोर्टल पर 24 जुलाई से कर सकेंगे इनवॉइस अपलोड

GSTN पोर्टल पर 24 जुलाई से कर सकेंगे इनवॉइस अपलोड, जीएसटी नेटवर्क देगी सुविधा

GSTN पोर्टल पर 24 जुलाई से कर सकेंगे इनवॉइस अपलोड, जीएसटी नेटवर्क देगी सुविधा: व्‍यापारी और ट्रेडर्स 24 जुलाई से जीएसटीएन के पोर्टल पर अपनी

संयुक्त आपूर्ति और मिश्रित आपूर्ति

संयुक्त आपूर्ति और मिश्रित आपूर्ति, Composite Supply & Mixed Supply in Hindi

संयुक्त आपूर्ति और मिश्रित आपूर्ति: जीएसटी के अंतर्गत वस्तुओं अथवा सेवाओं अथवा दोनों की आपूर्ति करयोग्य है, जब तक अन्यथा छूट नहीं दी जाती, तब

GST रजिस्ट्रेशन में अगर आ रही है दिक्कत

GST रजिस्ट्रेशन में अगर आ रही है दिक्कत, तो यहां कराएं कम्प्लेंट – हेल्पडेस्क नम्बर

GST रजिस्ट्रेशन में अगर आ रही है दिक्कत, तो यहां कराएं कम्प्लेंट: गुड्स और सर्विस टैक्स (जीएसटी) का रजिस्ट्रेशन कराने अभी भी बहुत सारे कारोबारियों

जीएसटी के रजिस्ट्रेशन में नहीं दें गलत जानकारी, कभी भी हो सकती है स्क्रूटनी

जीएसटी के रजिस्ट्रेशन में नहीं दें गलत जानकारी, कभी भी हो सकती है स्क्रूटनी

जीएसटी के रजिस्ट्रेशन में नहीं दें गलत जानकारी, कभी भी हो सकती है स्क्रूटनी: गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) लागू करने को लेकर सेल्स टैक्स

GST Return in Hindi

जीएसटी रिटर्न क्या है? किसे फाइल करनी चाहिए, देय तिथियां

जीएसटी रिटर्न 2021: सभी पंजीकृत व्यवसायों को व्यवसाय के प्रकार के आधार पर मासिक या त्रैमासिक और वार्षिक जीएसटी रिटर्न दाखिल करना होता है। ये सभी GSTR फाइलिंग GST पोर्टल

GST में कारोबारी खुद बना सकेंगे बिल फॉर्मेट

GST में कारोबारी खुद बना सकेंगे बिल फॉर्मेट, 200 रुपए तक इनवॉयस से छूट

GST में कारोबारी खुद बना सकेंगे बिल फॉर्मेट, 200 रुपए तक इनवॉयस से छूट: गुड्स एंड सर्विसेस टैक्स (जीएसटी) 1 जुलाई से लागू होना है।

जीएसटी के अंतर्गत कंपोजीशन लेवी पर अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

जीएसटी के अंतर्गत कंपोजीशन लेवी पर अक्सर पूछे जाने वाले सवाल – जवाब जाने

जीएसटी के अंतर्गत कंपोजीशन लेवी पर अक्सर पूछे जाने वाले सवाल: कंपोजीशन लेवी उन छोटे करदाताओं पर कर लगाने का वैकल्पिक तरीका है जिनका कारोबार 1.5

कारोबार में ब्लैकमनी पर कैसे लगाम लगाएगा GST

कारोबार में ब्लैकमनी पर कैसे लगाम लगाएगा GST? 5 प्वाइंट्स में समझें

कारोबार में ब्लैकमनी पर कैसे लगाम लगाएगा GST? 5 प्वाइंट्स में समझें: देश में ब्‍लैकमनी बड़ा मुद्दा है। एक्सपर्ट्स की मानी जाए तो गुड्स एंड